श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti Hindi PDF

श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti Hindi PDF download free from the direct link given below in the page.

❴SHARE THIS PDF❵ FacebookX (Twitter)Whatsapp
REPORT THIS PDF ⚐

श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti Hindi

हिंदू पंचांग के अनुसार राधा अष्टमी का पर्व हर साल भाद्रपद शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। मान्यता है इस दिन राधा रानी का जन्म हुआ था। धार्मिक मान्यताओं अनुसार राधा पानी की पूजा के बिना श्री कृष्ण की पूजा अधूरी मानी जाती है। शास्त्रों के अनुसार राधा अष्टमी का व्रत रखने से मनुष्य को उसके सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है और जीवन में खुशियों का आगमन होता है।

आरती श्री वृषभानुसुता की ( Aarti Shri Vrishbhanu Suta Ki ) की श्री राधा जी की सबसे प्रसिद्ध आरती है। यह प्रसिद्ध आरती राधा माता से सम्बन्धित अधिकांश अवसरों पर गायी जाती है। राधी रानी की कृपा से मनुष्य के बिगड़े कार्य सफल हो जाते हैं तथा साथ ही भगवान् श्री कृष्ण की भी विशेष कृपा प्राप्त होती है। राधी रानी को कृष्ण जी का सर्वाधिक प्रिय माना जाता है अथार्त यदि आप श्री राधी जी को प्रसन्न कर उनकी कृपा प्राप्त कर लेते हैं तो भगवान् श्री कृष्ण की कृपा भी स्वतः ही हो जाती है।

श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti Lyrics

आरती राधाजी की कीजै। टेक…
कृष्ण संग जो कर निवासा, कृष्ण करे जिन पर विश्वासा।
आरती वृषभानु लली की कीजै। आरती…
कृष्णचन्द्र की करी सहाई, मुंह में आनि रूप दिखाई।

उस शक्ति की आरती कीजै। आरती…
नंद पुत्र से प्रीति बढ़ाई, यमुना तट पर रास रचाई।

आरती रास रसाई की कीजै। आरती…
प्रेम राह जिनसे बतलाई, निर्गुण भक्ति नहीं अपनाई।

आरती राधाजी की कीजै। आरती…
दुनिया की जो रक्षा करती, भक्तजनों के दुख सब हरती।
आरती दु:ख हरणीजी की कीजै। आरती…
दुनिया की जो जननी कहावे, निज पुत्रों की धीर बंधावे।

आरती जगत माता की कीजै। आरती…
निज पुत्रों के काज संवारे, रनवीरा के कष्ट निवारे।

आरती विश्वमाता की कीजै। आरती राधाजी की कीजै…

श्री राधा माता जी की आरती | Aarti Shri Vrishbhanu Suta Ki

आरती श्री वृषभानुसुता की,मंजुल मूर्ति मोहन ममता की।

त्रिविध तापयुत संसृति नाशिनि,विमल विवेकविराग विकासिनि।

पावन प्रभु पद प्रीति प्रकाशिनि,सुन्दरतम छवि सुन्दरता की॥

आरती श्री वृषभानुसुता की।

मुनि मन मोहन मोहन मोहनि,मधुर मनोहर मूरति सोहनि।

अविरलप्रेम अमिय रस दोहनि,प्रिय अति सदा सखी ललिता की॥

आरती श्री वृषभानुसुता की।

संतत सेव्य सत मुनि जनकी,आकर अमित दिव्यगुन गनकी।

आकर्षिणी कृष्ण तन मन की,अति अमूल्य सम्पति समता की॥

आरती श्री वृषभानुसुता की।

कृष्णात्मिका कृष्ण सहचारिणि,चिन्मयवृन्दा विपिन विहारिणि।

जगज्जननि जग दुःखनिवारिणि,आदि अनादि शक्ति विभुता की॥

आरती श्री वृषभानुसुता की।

आप नीचे दिए हुए डाउनलोड बटन पर क्लिक करके श्री राधा रानी जी की आरती PDF / Shri Radha Rani Ji Ki Aarti Hindi PDF मे डाउनलोड कर सकते हैं ।

2nd Page of श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti PDF
श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti
PDF's Related to श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti

श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti PDF Free Download

REPORT THISIf the purchase / download link of श्री राधा रानी आरती | Radha Rani Aarti PDF is not working or you feel any other problem with it, please REPORT IT by selecting the appropriate action such as copyright material / promotion content / link is broken etc. If this is a copyright material we will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

SIMILAR PDF FILES

  • 51 Shakti Peeth Name List

    The Shakti Peetha (Sanskrit: शक्ति पीठ, Śakti Pīṭha, seat of Shakti) are significant shrines and pilgrimage destinations in Shaktism, the goddess-focused Hindu tradition. There are 51 Shakti peethas by various accounts, of which 18 are named as Maha (major) in medieval Hindu texts. The legend behind the Shakti Peethas is...

  • All State CM and Governor List 2024 Hindi

    भारतीय गणराज्य में अठाईस राज्यों और आठ में से तीन केन्द्र-शासित प्रदेशों की प्रत्येक सरकार के मुखिया मुख्यमन्त्री कहा जाता है। भारत के संविधान के अनुसार राज्य स्तर पर राज्यपाल कानूनन मुखिया होता है लेकिन वास्तव में कार्यकारी प्राधिकारी मुख्यमन्त्री ही होता है। राज्य विधान सभा चुनावों के बाद राज्यपाल...

  • Bajrang Baan (बजरंग बाण पाठ) Sanskrit

    बजरंग बाण पाठ (Bajrang Baan Paath) – बजरंग बली श्री हनुमान का जप करने वाले लोगों से सभी प्रकार के दुख दर्द दूर रहते हैं और वो हर प्रकार के भाय से मुक्त रहते हैं। कुछ लोग बजरंग बली को प्रसन्न रखने के लिए श्री हनुमान चालीसा का जाप करते...

  • Bajrang Baan Gita Press (बजरंग बाण गीत प्रेस) Hindi

    बजरंग बाण का पाठ किसी भी दिन शुरू ना करें। इसे मंगलवार के दिन ही शुरू किया जाना चाहिए। किसी मनोकामना की पूर्ति के लिए बजरंग बाण का पाठ कर रहे हैं तो कम से कम 41 दिनों तक इसका पाठ ज़रूर करें। इस पाठ के दौरान विशेष रूप से...

  • Bajrang Baan Marathi

    बजरंग बाणाचा जप मंगळवारी आणि शनिवारी सूर्य-उदया पूर्वी करावा. पहाटे लवकर उठून स्नान करावे व साधे स्वच्छ कपडे घालावे. शुद्ध अंतकरणाने हनुमानाच्या मूर्ती किव्हा फोटो समोर हात जोडून बजरंग बाणाचा जप करावा. Bajrang Baan Marathi PDF : हनुमानाला सुख्या नारळाच्या कवडीचा आणि गुळाचा प्रसाद दाखवावा. मारुती चरणी राइचे तेल, उडदाची...

  • Balopasana Marathi

    बाळगोपाळांनो रोज़ सकाळी अंघोळ झाली की तुम्ही या बालोपासनेतिल प्रार्थना म्हणा, म्हणजे तुमचे मन अत्यंत उत्साही बनेल .त्यावर जर शाळेतील अभ्यास केला तर तो पूर्ण तुमच्या लक्षात राहिल आणि तुम्ही परीक्षेत नक्की पास व्हाल.मात्र प्रार्थना दररोज व नियमित केली पाहिजे वडील माणसांच्या धाकने कपाळाला आठ्या घालून प्राथना केल्यास ती देवाला...

  • Braj 84 Kos Yatra List

    यह ब्रज यात्रा मथुरा, मधुवन, अड़ीग, राधाकुंड, गोवर्धन, डीग, आदिबद्री, केदारनाथ, काम्यवन, बरसाना, नंदगांव, होडल, शेषशायी, कोसीकलां, मांटवन, राया, दाऊजी, गोकुल, मथुरा होते हुए वृंदावन मोर कुटी पर आकर समाप्त होगी। ब्रजयात्रा के कुल 24 पड़ाव यात्रा में चौरासी कोस की इस यात्रा में कुल 24 पड़ाव होते है। सबसे...

  • Budget 2023 (केन्‍द्रीय बजट 2023-24) Hindi

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज संसद में Budget 2023 Hindi PDF में पेश कर दिया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से 2023-24 का केंद्रीय बजट आज (1 फरवरी, 2023) संसद में पेश किया जा चुका है। बजट पेश होने के बाद का पूरा और बजट पीडीएफ www.indiabudget.gov.in...

  • Damodarastakam (दामोदर अष्टकम) Sanskrit

    कार्तिक मास में दामोदर अष्टकम का पाठ करने से भगवान की विशेष कृपा प्राप्त होती है। इसके साथ ही हर रोज़ तुलसी जी के समक्ष दीप दान भी जरूर करना चाहिए। भगवान की कृपा पाने के लिए आज हम आपको दामोदर अष्टकम के पाठ के बारे में बताने जा रहे...

  • Garud Puran Marathi

    गरुड पुराणाला पुराण साहित्यात महत्त्वाचे स्थान आहे, सनातन धर्म म्हणजे मनुष्याच्या मृत्यूनंतर गरुड पुराणाचे पठण केल्याने त्याला वैकुंठ लोकाची प्राप्ती होते. या गरूण पुराणात एकूण २८९ अध्याय आणि १८ हजार श्लोक आहेत.गरुड पुराणात असे म्हटले आहे की जिथे जीवन आहे तिथे मृत्यू देखील निश्चित आहे, जो जन्म घेतो त्याला वेळ...