रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad PDF Hindi

रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad Hindi PDF Download

रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad in Hindi PDF download link is available below in the article, download PDF of रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad in Hindi using the direct link given at the bottom of content.

257 People Like This
REPORT THIS PDF ⚐

रिच डैड पुअर डैड हिंदी ट्रांसलेशन Hindi PDF

हैलो दोस्तों, आज हम आपके लिए लेकर आये हैं रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad PDF हिन्दी भाषा में। अगर आप रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad हिन्दी पीडीएफ़ डाउनलोड करना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। इस लेख में हम आपको देंगे रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad के बारे में सम्पूर्ण जानकारी और पीडीएफ़ का direct डाउनलोड लिंक।

रिच डैड पुअर डैड हिन्दी में रिच डैड पुअर डैड विश्व में सबसे ज्यादा बिकने वाली पुस्तकों में शुमार है। ईसके पढ़ने वालों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। ईस किताब में 2 ऐसे पिताओं की कहानी है जिनका पैसे और इनवेस्टमेंट को लेकर अलग ही नजरिया है।

Rich Dad Poor Dad is about Robert Kiyosaki and his two dads—his real father (poor dad) and the father of his best friend (rich dad)—and the ways in which both men shaped his thoughts about money and investing. You don’t need to earn a high income to be rich. Rich people make money work for them.

Rich Dad Poor Dad PDF Hindi | रिच डैड पुअर डैड

रिच डैड पुअर डैड पुस्तक रॉबर्ट कियोसाकी द्वारा लिखित विश्व प्रसिद्ध पुस्तक है।उन्होंने दुनिया भर लोगों की पैसों के बारे में सोच को बदला है. माता – पिता ,अपने बच्चों को स्कूल भेजते हैं ,लेकिन स्कूल में कई साल गुजारने  भी वित्तीय साक्षरता नहीं दी जाती है।उन्हें सिर्फ नौकरी की सुरक्षा का पाठ पढ़ाया जाता है ,लेकिन पैसों को अपने लिए काम करवाया नहीं सिखाया जाता है।अतः व्यापार और निवेश के गुणो को विकसित करने के लिए आपको यह पुस्तक आपको अवश्य पढ़नी चाहिए। इससे आपको बाजार की और पैसे की व्यावहारिक समझ मिलेगी ,जिससे आपका आर्थिक जीवन बदल सकता है।

रोबर्ट कियोसाकी को अपने बचपन में दो पिताओं की शिक्षा मिली।  रोबर्ट का डैडी एक पढ़े लिखे विश्वविद्यालय के प्रोफेस्सर थे लेकिन अपनी आमदनी को सही ढंग से प्रबंधन नहीं कर पाते थे।  वहीँ दूसरी तरफ रिच डैड जो कि लेखक के प्रिय मित्र माइक के पिता थे ,कम पढ़े – लिखे थे ,उनकी गणना हवाई राज्य के अमीरों में होती थी।  इसका कारण लेखक ने रिच डैड की वित्तीय साक्षरता को दी है।  अतः लेखक का कहना है कि गरीब और मध्यवर्गीय लोग पैसे के लिए काम करते हैं ,जबकि अमीरों के लिए पैसा काम करता है।गरीब आदमी नौकरी की सुरक्षा ,प्रमोशन और पेंशन के लिए काम करते।ज्यादा पैसा कमाने के लिए वे लोग ज्यादा मेहनत को ही प्राथमिकता देते हैं।इस प्रकार उसके अंदर असुरक्षा की भावना रहती है ,जबकि अमीर काम सीखने के लिए काम करते हैं ,काम सीखने के बाद पैसा अपने आप आता है।  नए – नए तारीके खोजते रहते है।

रॉबर्ट कियोसाकी का मानना रहा है कि बच्चों को विद्यालयों को वित्तीय साक्षरता का पाठ पढ़ाया जाना चाहिए।  उसे आज के सूचना युग के लिए तैयार करना चाहिए ,न की औद्यगिक युग की तरह स्कूल जाओ ,अच्छे नंबरों से पास हो और दायित्व में फर्क नहीं समझता है।  यही कारण है कि वह घर को अपनी सबसे बड़ी पूँजी समझता है ,जबकि वही पर उसके जेब से सबसे ज्यादा पैसा निकलता है।लेखक का मानना है कि संपत्ति वह है , जो आपके जेब से पैसा लाय न की आपके जेब से पैसा निकाले।अतः संपत्ति और दायित्व के अंतर को समझना चाहिए।  लोगों को अपने जीवन में पैसिव इनकम पर ध्यान देना चाहिए ,जिसमें व्यापार ,स्टॉक ,बॉन्ड ,म्यूच्यूअल फंड्स ,रियल स्टेट ,नोट्स ,बौद्धिक सम्पदा पर स्थान देना चाहिए ,जिससे आपकी जेब में पैसा आए।

लेखक ने मैक्डोनाल्ड के मालिक रे क्रॉक का उदाहरण दिया है जिन्होंने M.B.A के विद्यार्थियों को अपनी वास्तव व्यवसाय हैम बर्गर बेचना नहीं ,बल्कि रियल स्टेट बताया है।रे का व्यापार प्लान फ्रेंचाइजी बेचना था ,जिसमें वे फ्रेंचाइजी की लोकेशन द्वारा रियल स्टेट का व्यापार करते थे।

लेखक का कहना है कि लोगों को एक साल तक बिक्री की कला सीखनी चाहिए।भले ही इससे कुछ कमाई न हो ,लेकिन इससे कम्यूनिकेश स्किल्स सुधार होगी।

लेखक सैद्धांतिक एवं व्यवहारिक दोनों बातों को सिखाया है।कुछ बुरी आदतों से बचने की सलाह दी है ,जिनमें डर ,सनकीपन ,आलस्य ,बुरी आदतें ,जिद आदि है।व्यवसाय और निवेश सीखा जा सकता है ,केवल नौकरी की सुरक्षा से ही ग्रसित नहीं रहना चाहिए।अपने सीखने की गुणवत्ता में भी सुधार करना चाहिए ,तभी हम वित्तीय स्वाधीनता की ओर बढ़ पाएँगे।

रॉबर्ट कियोसाकी ने रिच डैड पुअर डैड पुस्तक को १० अध्यायों में बाँटा है।जिनमें प्रमुख है –

  • अमीर लोग पैसे के लिए काम नहीं करते हैं।
  • पैसे की समझ क्यों सिखाई जानी चाहिए।
  • अमीर लोग पैसे का आविष्कार करते हैं।
  • सीखने के लिए काम करें – पैसे के काम न करें।
  • शुरुवात करना

You can download the (रिच डैड पुअर डैड) Rich Dad Poor Dad Hindi PDF format using the link given below.

Also, Check
Rich Dad Poor Dad in English

रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad PDF - 2nd Page
रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad PDF - PAGE 2

रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad PDF Download Link

REPORT THISIf the purchase / download link of रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad PDF is not working or you feel any other problem with it, please REPORT IT by selecting the appropriate action such as copyright material / promotion content / link is broken etc. If रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad is a copyright material we will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

12 thoughts on “रिच डैड पुअर डैड | Rich Dad Poor Dad

  1. Hi Sushil Kumar You can download this Book from the download link given at the bottom of this article

  2. You can download the Rich Dad Poor Dad book in Hindi from the download link given at the bottom of this article for free.

  3. I want the pdf of rich dad poor dad please give me asap i really want to read it……….

  4. You can download the Rich Dad and Poor Dad Book from the PDF download link given at the bottom of this article for free.

Leave a Reply

Your email address will not be published.