अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti Hindi PDF

अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti Hindi PDF download free from the direct link given below in the page.

❴SHARE THIS PDF❵ FacebookX (Twitter)Whatsapp
REPORT THIS PDF ⚐

अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti Hindi

अहोई अष्टमी माता का व्रत करवा चौथ के चार दिन बाद मनाया जाता है। यह व्रत माताएं अपनी संतान के जीवन में हमेशा सुख और समृद्धि बनाए रखने के लिए करती हैं। नि:संतान महिलाएं बच्चे की कामना में अहोई अष्टमी का व्रत रखती हैं। अबोई माता की आरती को पीडीएफ़ प्रारूप में डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए लिंक का उपयोग कर सकते हैं।

अहोई माता के पूजन में अहोई अष्टमी व्रत कथा को पढ़ना भी बहुत अधिक महत्वपूर्ण होता है। कहा जाता है की किसी भी प्रकार का पूजन व अनुष्ठान बिना आरती किये संपन्न नहीं माना जाता है। अतः पूजन के अंत में सम्बंधित देवी – देवताओं की आरती करना भी अत्यधिक आवश्यक है। आप भी अहोई अष्टमी पूजन के उपरांत अहोई अष्टमी माता की आरती अवश्य करें।

अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti in Hindi

जय अहोई माता, जय अहोई माता!
तुमको निसदिन ध्यावत हर विष्णु विधाता। टेक।।

ब्राह्मणी, रुद्राणी, कमला तू ही है जगमाता।
सूर्य-चंद्रमा ध्यावत नारद ऋषि गाता।। जय।।

माता रूप निरंजन सुख-सम्पत्ति दाता।।
जो कोई तुमको ध्यावत नित मंगल पाता।। जय।।

तू ही पाताल बसंती, तू ही है शुभदाता।
कर्म-प्रभाव प्रकाशक जगनिधि से त्राता।। जय।।

जिस घर थारो वासा वाहि में गुण आता।।
कर न सके सोई कर ले मन नहीं धड़काता।। जय।।

तुम बिन सुख न होवे न कोई पुत्र पाता।
खान-पान का वैभव तुम बिन नहीं आता।। जय।।

शुभ गुण सुंदर युक्ता क्षीर निधि जाता।
रतन चतुर्दश तोकू कोई नहीं पाता।। जय।।

श्री अहोई मां की आरती जो कोई गाता।
उर उमंग अति उपजे पाप उतर जाता।।

अहोई माता की कहानी | Ahoi Mata Ki Kahani

प्राचीन काल में एक साहुकार था, जिसके सात बेटे और सात बहुएं थी। इस साहुकार की एक बेटी भी थी जो दीपावली के अवसर पर ससुराल से मायके आई थी I दीपावली पर घर को लीपने के लिए सातों बहुएं मिट्टी लाने जंगल में गई तो ननद भी उनके साथ जंगल की ओर चल पड़ी। साहुकार की बेटी जहां से मिट्टी ले रही थी उसी स्थान पर स्याहु (साही) अपने साथ बेटों से साथ रहती थी। खोदते हुए ग़लती से साहूकार की बेटी ने खुरपी से स्याहू का एक बच्चा मर गया। स्याहू इस पर क्रोधित होकर बोली मैं तुम्हारी कोख बांधूंगी।

स्याहू की यह बातसुनकर साहूकार की बेटी अपनी सातों भाभीयों से एक एक करके विनती करती हैं कि वह उसके बदले अपनी कोख बंधवा लें। सबसे छोटी भाभी ननद के बदले अपनी कोख बंधवाने के लिए तैयार हो जाती है। इसके बाद छोटी भाभी के जो भी बच्चे थे वह सभी सात दिन बाद मर जाते हैं। सात पुत्रों की इस प्रकार मृत्यु होने के बाद उसने पंडित को बुलवाकर इसका कारण पूछा। पंडित ने सुरही गाय की सेवा करने की सलाह दी।

सुरही सेवा से प्रसन्न होती है और उसे स्याहु के पास ले जाती है। रास्ते में थक जाने पर दोनों आराम करने लगते हैं। अचानक साहुकार की छोटी बहू की नज़र एक ओर जाती हैं, वह देखती है कि एक सांप गरूड़ पंखनी के बच्चे को डंसने जा रहा है और वह सांप को मार देती है। इतने में गरूड़ पंखनी वहां आ जाती है और खून बिखरा हुआ देखकर उसे लगता है कि छोटी बहु ने उसके बच्चे के मार दिया है। इस पर वह छोटी बहू को चोंच मारना शुरू कर देती है। छोटी बहू इस पर कहती है कि उसने तो उसके बच्चे की जान बचाई है। गरूड़ पंखनी इस पर खुश होती है और सुरही सहित उन्हें स्याहु के पास पहुंचा देती है।

स्याहु छोटी बहू की सेवा से प्रसन्न होकर उसे सात पुत्र और सात बहुएं होने का अशीर्वाद देती है। स्याहु के आशीर्वाद से छोटी बहु का घर पुत्र और पुत्र की वधुओं से हरा भरा हो जाता है। अहोई अष्टमी का अर्थ एक प्रकार से यह भी होता है “अनहोनी को होनी बनाना” जैसे साहुकार की छोटी बहू ने कर दिखाया था।

आप नीचे दिए गए लिंक का उपयोग करके अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti in hindi PDF में डाउनलोड कर सकते हैं।

Also Check

2nd Page of अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti PDF
अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti
PDF's Related to अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti

अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti PDF Free Download

REPORT THISIf the purchase / download link of अहोई अष्टमी माता की आरती | Ahoi Mata Aarti PDF is not working or you feel any other problem with it, please REPORT IT by selecting the appropriate action such as copyright material / promotion content / link is broken etc. If this is a copyright material we will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

SIMILAR PDF FILES

  • Hindu Panchang Calendar 2023 Hindi

    हिन्दू कैलेंडर 2023 आगामी तीज-त्योहारों और हर साल आने वाले व्रतों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। इन सभी में हिंदू धर्म के अलावा मुस्लिम, ईसाई, सिख और कई अन्य समुदायों के त्योहार शामिल हैं। हिंदू कैलेंडर 2023 (हिंदू पंचांग कैलेंडर 2023) बहुत प्रसिद्ध पंचांग है जिसका उपयोग भारत...

  • KartikMassKathaBook(कार्तिकमासव्रतकथा)

    कार्तिक मास साल 2023 में 29 अक्टूबर 2023 से शुरू होकर 27 नंवबर तक चलेगा। हिन्दू धर्म में कार्तिक मास का बहुत महत्व है और सर्वश्रेष्ठ भी माना गया है। आप इस Kartik Mass Katha Book PDF में कार्तिक मास की पूजा विधि, कथा और इस माह में क्या करना...

  • अहोईअष्टमीकैलेंडर(AhoiAshtamiCalendar2023)

    Ahoi Ashtami Calendar PDF – अहोई अष्टमी कैलेंडर अहोई अष्टमी का व्रत वर्ष 5 नवंबर को रात 12 बजकर 59 मिनट से होगी और समापन 6 नवंबर को प्रात: 3 बजकर 18 मिनट पर होगा।। इस पर्व में भी चन्द्रोदय व्यापिनी अष्टमी का ही विशेष महत्त्व है ,अतः अष्टमी तिथि...

  • अहोई अष्टमी व्रत कथा (कहानी) – Ahoi Ashtami Vrat Katha Hindi

    अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami ) के दिन माताएँ अपने पुत्रों की भलाई के लिए उषाकाल (भोर) से लेकर गोधूलि बेला (साँझ) तक उपवास करती हैं। साँझ के दौरान आकाश में तारों को देखने के बाद व्रत तोड़ा जाता है। कुछ महिलाएँ चन्द्रमा के दर्शन करने के बाद व्रत को तोड़ती है...

  • कार्तिक मास की कथा (Kartik Maas Katha) Hindi

    इस साल 2023 में कार्तिक माह की शुरुआत 29 अक्टूबर से 27 नंवबर 2023 तक चलेगा। कार्तिक माह का महीना बारह महीनों में से श्रेष्ठ महीना है। पुराणों में कार्तिक मास को स्नान, व्रत व तप की दृष्टि से मोक्ष ओए कल्याण प्रदान करने वाला बताया गया है। आप इस...

  • ठाकुर प्रसाद कैलेंडर 2022 | Thakur Prasad Panchang Calendar 2022 Hindi

    Thakur Prasad Calendar 2022 (ठाकुर प्रसाद कैलेंडर 2022) PDF is an Panchang calendar is made up of many elements including Nakshatra, Karana, Yoga, Festival, Vaar, Paksha, Yoga, etc. Thakur Prasad Panchang Calendar 2022 PDF can be download from the link given at the bottom of this page. Thakur Prasad Panchang...

  • हिन्दी पंचांग कैलेंडर 2022 | Calendar 2022 with Tithi Hindi

    In this Hindu calendar 2022 with Tithi PDF you can watch out the list of festivals to be celebrated in India in the year 2022, this calendar, fasting, sunrise, sunset, monthly holidays, and much more. हिंदू त्योहार कैलेंडर को हिंदू व्रत और त्योहार कैलेंडर के रूप में भी जाना जाता...

  • हिन्दू कैलंडर 2022 | Hindu Panchang Calendar 2022 Hindi

    हिन्दू कैलेंडर 2022 आगामी तीज-त्योहारों और हर साल आने वाले व्रतों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। इन सभी में हिंदू धर्म के अलावा मुस्लिम, ईसाई, सिख और कई अन्य समुदायों के त्योहार शामिल हैं। हिंदू कैलेंडर 2022 (हिंदू पंचांग कैलेंडर 2022) बहुत प्रसिद्ध पंचांग है जिसका उपयोग भारत...

  • हिन्दू पंचांग कैलेंडर 2023 | Hindu Calendar 2023 with Tithi Hindi

    हिन्दू कैलेंडर 2023 आगामी तीज-त्योहारों और हर साल आने वाले व्रतों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। इन सभी में हिंदू धर्म के अलावा मुस्लिम, ईसाई, सिख और कई अन्य समुदायों के त्योहार शामिल हैं। हिंदू कैलेंडर 2023 (हिंदू पंचांग कैलेंडर 2023) बहुत प्रसिद्ध पंचांग है जिसका उपयोग भारत...