सुंदरकांड | Sundar kand PDF Sanskrit

सुंदरकांड | Sundar kand Sanskrit PDF Download

सुंदरकांड | Sundar kand in Sanskrit PDF download link is available below in the article, download PDF of सुंदरकांड | Sundar kand in Sanskrit using the direct link given at the bottom of content.

232 People Like This
REPORT THIS PDF ⚐

सुंदरकांड | Sundar kand Sanskrit PDF

सुंदरकांड | Sundar kand PDF Download in Sanskrit for free using the direct download link given at the bottom of this article.

Hello, Friends today we are sharing with you सुंदरकांड | Sundar kand PDF to help you. If you are searching Sundar kand in PDF format then you have arrive at the right website and you can directly download from the link given at bottom of this page. सुन्दर कांड PDF” – श्री राम चरित मानस का 5 वा अध्याय/कांड है। सुन्दर कांड (Sundar Kand) को सबसे पहले रामायण में श्री वाल्मीकि जी ने संस्कृत में लिखा था। बाद में तुलसी दस जी ने जब श्री राम चरित मानस लिखी, तो सुन्दर कांड का अवधी भाषा वाला रूप हम सब के सामने आया जो की सबसे प्रचलित है।

हिंदू धर्म में सुंदरकांड (Sundar kand ) पाठ का विशेष महत्व होता है। सुंदरकांठ पाठ में भगवान हनुमान के बारे में विस्तार से बताया गया है। तुलसीदास द्वारा रचित सुंदरकांड सबसे ज्यादा लोकप्रिय और महत्वपूर्ण माना गया है। मान्यताओं के अनुसार जो भी व्यक्ति नियमित अंतराल में घर पर सुंदरकांड का पाठ करता है उसे प्रभु का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

सुंदरकांड का महत्व

भगवान हनुमान जल्द प्रसन्न होने वाले देवता हैं। ये बल, बुद्धि और कृपा प्रदान करने वाले माने जाते हैं। सुंदरकांड का पाठ करने से व्यक्ति को जीवन में कई सकारात्मक बदलाव देखने को मिलते हैं। जो भी जातक प्रतिदिन सुंदरकांड का पाठ करता है उसकी एकाग्रता और आत्मविश्वास में वृद्धि होती है। सुंदरकांड का पाठ करने से व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ऐसे में उसके द्वारा किए जाने वाले किसी भी काम का परिणाम हमेशा सकारात्मक ही मिलता है। इसलिए हर घर में सुंदरकांड का पाठ अवश्य करने को बताया गया है। सुंदरकांड का नियमित पाठ करने से व्यक्ति के अंदर से नकारात्मक शक्तियां दूर चली जाती है।

सुंदरकांड पाठ करने की विधि

  • अगर आप विशेष फल की प्राप्ति के लिए सुंदरकांड का पाठ कर रहे हैं तो इसकी शुरूआत मंगलवार या शनिवार के दिन से करें।
  • सुंदरकांड का पाठ शुरू करने से पहले स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना चाहिए।
  • सुंदरकांड का पाठ करने से पहले पूजा स्थल पर रखी हनुमानजी की मूर्ति की विशेष रूप से पूजा करनी चाहिए। साथ ही सीता-राम की मूर्तियां भी हनुमान जी पास रखें।
  • हनुमानजी की पूजा फल-फूल, मिठाई और सिंदूर से करें।
  • सुंदरकांड का पाठ शुरू करने से पहले गणेश वंदना बहुत जरूर करें।
  • सुंदरकांड करते समय तुलसीदास द्वारा रचित रामचरितमानस की भी पूजा करनी चाहिए।

सुन्दर काण्ड पाठ के लाभ

  • शनिवार को यदि आप सुंदरकांड का पाठ करते हैं तो बजरंगबली तो प्रसन्‍न होंगे ही और साथ में शनिदेव भी आपका बुरा नहीं करेंगे।
  • हिन्दू धर्म की प्रसिद्ध मान्यता के अनुसार सुंदरकांड का पाठ करने वाले भक्त की मनोकामना जल्द पूर्ण हो जाती है।
  • सुंदरकांड का पाठ करने वाले भक्त को हनुमान जी बल प्रदान करते हैं। उसके आसपास भी नकारात्मक शक्ति भटक नहीं सकती। यह भी माना जाता है कि जब भक्त का आत्मविश्वास कम हो जाए या जीवन में कोई काम ना बन रहा हो, तो सुंदरकांड का पाठ करने से सभी काम अपने आप ही बनने लगते हैं।
  • सुंदरकांड का पाठ भक्त के आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति को बढ़ाता है। इस पाठ की एक-एक पंक्ति और उससे जुड़ा अर्थ, भक्त को जीवन में कभी ना हार मानने की सीख प्रदान करता है।

Ramcharitmanas All Kand Sequence

  1. Ramcharitmanas Bal Kand
  2. Ramcharitmanas Ayodhya Kand
  3. Ramcharitmanas Aranya Kand
  4. Ramcharitmanas Kishkindha Kand Arth Sahit
  5. Ramcharitmanas Sunder Kand
  6. Ramcharitmanas Lanka Kand
  7. Ramcharitmanas Uttar Kand with Meaning

Download Ramcharitmanas Sunderkand Path with Meaning in pdf format or read online for free through the direct link provided below.
Also, Read
Sundarkand by Gita Press Gorkhpur in Hindi
Nama Ramayanam in Telugu
Sri Hanuman Chalisa PDF in Telugu
Hanuman Chalisa Lyrics in English with Meaning pdf
Shri Hanuman Chalisa PDF in Hindi
Sri Hanuman Chalisa in Marwari
Shri Hanuman Chalisa PDF in Gujarati

सुंदरकांड | Sundar kand PDF - 2nd Page
सुंदरकांड | Sundar kand PDF - PAGE 2

सुंदरकांड | Sundar kand PDF Download Link

REPORT THISIf the purchase / download link of सुंदरकांड | Sundar kand PDF is not working or you feel any other problem with it, please REPORT IT by selecting the appropriate action such as copyright material / promotion content / link is broken etc. If सुंदरकांड | Sundar kand is a copyright material we will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

RELATED PDF FILES

One thought on “सुंदरकांड | Sundar kand

Leave a Reply

Your email address will not be published.